बिल्ली को वैदिक ज्योतिष में राहु की सवारी बताया गया है। राहु की सवारी होने की वजह से भारतीय जनमानस में बिल्ली का रास्ता काटना अशुभ माना गया है।

रात को बिल्ली क्यों रोती है?

बिल्ली क्यों रोती है रात में इसकी बड़ी वजह नकारात्मक उर्जा को भी माना जाता है। हालांकि वैज्ञानिक इस बात को नहीं मानते हैं। लेकिन ज्योतिष पर विश्वास करने वाले लोग यह मानते हैं कि कुत्ते और बिल्ली नकारात्मक उर्जा को महसूस कर सकते हैं।

रात को बिल्ली क्यों रोती है?

बिल्ली क्यों रोती है रात में इसकी बड़ी वजह नकारात्मक उर्जा को भी माना जाता है। हालांकि वैज्ञानिक इस बात को नहीं मानते हैं। लेकिन ज्योतिष पर विश्वास करने वाले लोग यह मानते हैं कि कुत्ते और बिल्ली नकारात्मक उर्जा को महसूस कर सकते हैं।

बिल्ली को मारने से क्या पाप लगता है?

गरुड पुराण के अनुसार हर जीव में ईश्वर का वास माना गया है। खासतौर पर इंसान के लिए जीव हिंसा, यहां तक कि पेड़-पौधों को काटना भी देव अपराध है। इन जीवों में गाय, बकरे या बिल्ली जैसे पालतू पशु को जाने-अनजाने मारने के पाप उतारने के खास उपाय बताए गए हैं।

बिल्ली की आवाज मिलने से क्या होता है?

म्याऊं की आवाज़ से हमें भी अच्छा एहसास होता है. कई बार पालतू बिल्लियां यहां-वहां से आवाज़ लगाते हुए अपने मालिक के पैरों के पास आ खड़ी होती हैं, जैसे खाना मांग रही हों. ये एहसास भी सुखद होता है. 

बिल्ली किसका रूप होता है?

बिल्ली को अलक्ष्मी की सवारी माना जाता है। अलक्ष्मी दरिद्रता की अधिष्ठात्री देवी हैं। अलक्ष्मी विष्णु-पत्नी लक्ष्मी की बड़ी बहिन है जो 'अधर्म' की पत्नी हैं।

घर में बिल्ली आने से क्या फायदा?

घर में काली बिल्ली पालने के फायदे धन और तरक्की आती है। ghar mein billi palne ke fayde. दोस्तों ऐसा माना जाता है कि यदि दीपावली की रात को एक बिल्ली घर के अंदर होती है या वह आती है तो यह पूरे साल धन और तरक्की का सूचक होती है। इसके अलावा यदि बिल्ली रात के अंदर घर मे रहती है तो उसे भी अच्छा माना जाता है।

बिल्ली क्या संकेत देती है?

बिल्ली का घर में आना व्यक्ति के जीवन में त्रिगुण श्राप- अलक्ष्मी, राहु और पितरों के तीव्र कोप का संकेत देता है. बिल्ली को काली शक्ति का प्रतीक भी माना जाता है. वास्‍तु शास्‍त्र में बिल्लियों को नकारात्मक ऊर्जा का स्रोत भी कहा गया है. लेकिन ऐसा नहीं है बिल्ली से जुड़े सभी संकेत अशुभ होते हैं

बिल्ली पालना अच्छी बात है क्या?

ज्योतिष एवं वास्तुशास्त्र के अनुसार, बिल्ली का बार-बार घर में आना शुभ नहीं माना जाता है. नारद पुराण के अनुसार, घर में जहां-जहां पर बिल्ली के पैरों की पदचाप पड़ती है, वहां पर सकारात्मक ऊर्जा की हानि होती है. इसलिए बिल्ली के बार-बार घर में आने से घर में अशुभ प्रभाव बढ़ने लगता है