इन्सुलिन इंजेक्शन कितने डिग्री पर लगता है कहीं आप तो नहीं कर रहे यह गलती

ज्यादातर लोगों को यह नहीं पता होता है कि इन्सुलिन इंजेक्शन कितने डिग्री पर लगता है, और कुछ लोगों को इन्सुलिन इंजेक्शन इन प्रेगनेंसी मैं लगाना चाहिए या नहीं का अधूरा ज्ञान होता है लेकिन मैं आपको बताऊंगा कि इन्सुलिन इंजेक्शन कब दिया जाता है । अक्सर लोगों के मन में अधिकतर अनेकों सवाल उभरते रहते हैं जिनका जवाब ढूंढ पाना उनको बहुत ही मुश्किल हो जाता है लेकिन यहां पर हम आपको कुछ ऐसी जानकारियां देंगे जिसे आप काफी हद तक संतुष्ट हो जाएंगे यदि आपका कोई सवाल रह जाता है, तो आप हमें मेल लिख सकते हैं तो चलिए जानते हैं इंसुलिन के बारे में कुछ जरूरी जानकारियां।

इन्सुलिन इंजेक्शन कितने डिग्री पर लगता है
इन्सुलिन इंजेक्शन कितने डिग्री पर लगता है

इन्सुलिन इंजेक्शन कितने डिग्री पर लगता है

आप अगर इंसुलिन का इंजेक्शन लगा रहे हैं तो आपको कुछ जरूरी बातों को ध्यान में रखना होता है यदि आपको इस चीज का ज्ञान नहीं है तो कभी-कभार आप भारी दुख में भी पढ़ सकते हैं हालांकि आपको इंसुलिन इंजेक्शन डॉक्टर की देखरेख में ही उपयोग में लाना चाहिए आप गलत तरीके से किया गया प्रयोग आप पर भारी पड़ सकता है इसलिए जब भी इंजेक्शन लगवाए आप अपने डॉक्टर से लगवाएं यहां मैं आपको बता दूं कि इन्टरनेट पर आधारित तथ्य के अनुसार इंसुलिन इंजेक्शन को आप रोगी के शरीर में 90 डिग्री पर लगाएं यह मरिज के शरीर में 90 डिग्री पर लगता है। और आपको इंजेक्शन को आर से 10 सेकंड तक अंदर ही रखना होता है उसके पश्चात आप इसे इंजेक्ट होने के बाद निकाल सकते हैं।

इन्सुलिन इंजेक्शन इन प्रेगनेंसी

ऐसा करना आपको जो कि मैं डाल सकता है यदि आपका डॉक्टर आपको सलाह दे कि आप इन्सुलिन इंजेक्शन इन प्रेगनेंसी में लगा सके तो आप इसे अपने डॉक्टर की सहायता से लगा सकते हैं लेकिन अब मन मामलों में डॉक्टर इसे लगाने की मन नहीं करते हैं क्योंकि यदि आपको प्रेगनेंसी के दौरान इंसुलिन लगाने की जरूरत है तो आपको इस जन्म के बाद ही लगाना उचित रहता है ऐसे में आपके बच्चे को खतरा हो सकता है आपकी कुछ जांच कर डॉक्टर आपको  इंजेक्शन लगाने की सलाह दे सकता है।

यह भी पढ़ें: टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने की होम्योपैथिक दवा व टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने की पतंजलि दवा , साइड इफेक्ट्स जाने

इन्सुलिन इंजेक्शन कब दिया जाता है

आए दिन भारत में डायबिटीज मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है जिनमें से कुछ मरीजों को गंभीर समस्याएं हो जाती है और कुछ समय पर उपचार करने वाले मरीज जो है वह जल्दी इसका इलाज भी ढूंढ लेते हैं लेकिन आपके मन में यह सवाल करें उठ रहा है कि इंसुलिन इंजेक्शन कर दिया जाना चाहिए आपकी जानकारी के लिए आपको बता दो जब आपके शरीर में बॉडी इंसुलिन की मात्रा कम हो जाती है तब आपको इंसुलिन इंजेक्शन दिया जाता है। कुछ परिस्थितियों में डॉक्टर आपको इंसुलिन का इन्फेक्शन नहीं लग सकेगा यदि आप मेडिकल रिपोर्ट्स में सही नहीं उतरते या फिर कुछ ऐसा फाल्ट नहीं मिलता तो आपको इंसुलिन का इंजेक्शन नहीं दिया जाता है।

विशेषज्ञों के अनुसार आपको इंश्योरेंस इंजेक्शन तब दिया जाता है जब आपकी बॉडी पर्याप्त मात्रा में इंसुलिन प्रोड्यूस नहीं कर पाती और इसकी कमी हो जाती है खासतौर से डायबिटीज टाइप वन में आपको इंश्योरेंस इंजेक्शन लगाने की सलाह दी जाती है।

FAQs

1. इंसुलिन सुई कितनी बार इस्तेमाल की जा सकती है?

आमतौर पर आपको एक बार नहीं एक इंसुलिन की सी इस्तेमाल करनी चाहिए दूसरी बार लगाते हुए नहीं सी का प्रयोग करें।

2. इंसुलिन का असर कितनी देर तक रहता है?

विकिपीडिया के अनुसार इंसुलिन का असर न्यूनतम 1 घंटे से अधिकतम 4 घंटे तक रहता है।

3. इंसुलिन क्यों बंद हो जाता है?

अनियमित जीवन शैली और गलत खानपान से आपका इंसुलिन बंद हो जाता है।

4. अगर मेरा इंसुलिन खत्म हो जाए तो क्या होगा?

यदि आपका इंसुलिन खत्म हो गया है तो आपको डायबिटीज की बीमारी होती है ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास चेकअप करवाना चाहिए।

5. इंसुलिन खत्म हो जाए तो क्या करें?

आपका इंसुलिन खत्म हो जाए तो आपको तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए वह आपको इंसुलिन इंजेक्शन तथा दवा लेने की सलाह दे सकते हैं।

और नया पुराने